लक्ष्मी पूजन सामग्री

Diwali Pooja Item list

पूजा के आने से पेहले ही आप check कर ले और जो जो समान नही है उसे order कर ले या बजार से ले आए । नीचे दी गयी सूची मे सारे सामान है ।

  • भगवान गणेश और देवी लक्ष्मी की नई मूर्ति (मूर्तियाँ न मिले तो फोटो या पोस्टर भी लगा सकते हैं )
  • बही-खाता 
  • नारियल / श्रीफल
  • केले के पत्ते पूजा के लिये , आम के पत्ते तोरण के लिये और कलश के लिये, पान के पत्ते
  • देवी लक्ष्मी के लिए एक लाल रेशमी कपड़ा, एक पीला कपड़ा और कलम के साथ स्याही
  • आसनि – भगवान के आसन (बैठने) के लिए एक लाल कपड़ा , 
  • मूर्ति रखने के लिए लकड़ी का स्टूल / अगर चोकी होतो तो बहुत अच्छा रहेगा 
  • पाँच बड़े मिट्टी के दीपक (दीपक)
  • छोटा मिट्टी का दीपक (कम से कम 25)
  • लक्ष्मी जी के लिये लाल कमल का फूल और गणेश जी के लिये सफेद कमल का फूल
  • फूल और ताजे फूलों से बनी कम से कम तीन माला
  • बिल्व-पत्ते और तुलसी-पत्ते
  • सैगी / सबुत सुपारी
  • नव ग्रह के लिये अनाज      
  • नैवेद्य –  मिठाई, फल, गन्ना, खील-बताशे
  • मीठा पान (कम से कम 3)
  • अनार या बिल्व शाखा से बना एक कलम / डंडी 
  • दूब () – दुर्वा घास
  • पंच पल्लव (हवन के लिये) – निम्नलिखित पांच पेड़ों की टहनियाँ:
  1. आम
  2. पलाश
  3. बरगद
  4. पीपल
  5. बकुल ()
  • सर्वौषधि () दस निम्न जड़ी-बूटियाँ
  1. मुरा ()
  2. जटामासी ()
  3. बाख ()
  4. कुष्ठ ()
  5. शैलेय ()
  6. हरदी ()
  7. दारु-हरदी (-)
  8. सोंथुनी ()
  9. चंपक ()
  10. मस्ता ()
  • सप्त-मृतिका (-) – 7 स्थानों से एकत्र मिट्टी
  1. घुड़शाल
  2. हाथी का शाल
  3. गाय कि गौशाल
  4. चींटी का ढेर
  5. नदी का संगम
  6. समतल नीचा भूमि
  7. शाही महल
  • अगरबत्ती और घंटी
  • शंख
  • दक्षिणा / पैसे
  • हल्दी, कुंकुम, चावल, सुपारी, जनेऊ,  प्रसाद
  • भोग 
  • फूल
  • पंचामृत – (दूध, दही, शहद, घी व शुद्ध जल का मिश्रण)
  • पाँच मेवों- गरी (नारियल), चिरौंजी, बादाम, छुहारा और किशमिश का मिश्रण।
  • धूप दानी (अगरबत्ती), दीपक (मिट्टी के दीपक) और काजलोटा (काजल बनाने के लिए इस्तेमाल की जाने वाली मिट्टी के बर्तन) से बनी चीजें
  • वैक्स लैंप
  • पूजा थाली
  • कच्चा दूध
  • कपूर
  • मीठा
  • कलेवा
  • कमल का फूल
  • घी या तेल 
  • रुई की बत्ती
  • पानी के साथ एक कलश
  • अक्षत/ चावल का उपयोग अनुपलब्ध वस्तु के स्थान पर एक उपाय के रूप में किया जा सकता है यदि कोइ वस्तु उपलब्ध नहीं हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *